Header Ads

  • BREAKING NEWS

    लॉकडाउन के बाद,आप इन नियमों के साथ दिल्ली मेट्रो की यात्रा कर पाएंगे, इन बातों का ध्यान रखना होगा

    We News 24 Hindi »दिल्ली/राज्य
    NCR/ब्यूरो संवाददाता गोविन्द कुमार

     नई दिल्ली : कोरोना की गंभीरता को कम करने के लिए देश में 3 मई तक लॉकडाउन लगाया हुआ है। वहीं लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी कोरोना जैसी जानलेवा महामारी से निपटने के लिए दिल्ली मेट्रो ने अपने संचालन को चाक-चौबंद करने की तैयारियां पूरी कर ली हैं। लॉकडाउन खुलने के बाद भी लोगों को इतनी आसानी से दिल्ली मेट्रो में एंट्री नहीं मिलेगी। यात्रियों और मेट्रोकर्मियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए लोगों को मेट्रो में सफर करने के दौरान बदले हुए नियम कानूनों का पालन करना होगा। 

    ये भी पढ़े-BREAKING:पूर्व मुख्यमंत्री हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी पर लॉकडाउन उलंघन का लगा आरोप

    क्या होगा नियम 
    यात्रियों के बीच 1 मीटर की दूरी जरूरी
    मेट्रो स्टेशन परिसर में यात्रियों को लाइन के नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। सिक्योरिटी स्क्रीनिंग की जगह से लाइन शुरू होने की दूरी 2 मीटर होगी। वहीं, यात्रियों के बीच में कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखना जरूरी होगा। सभी मेट्रो स्टेशनों पर CISF के दो कर्मी पीपीई सुरक्षा उपकरण को पहने रहेंगे।


    ये भी देखे-VIDEO:बिहटा पुलिस ने देसी कट्टे के साथ एक अपराधी को किया गिरफ्तार

    बिना फेस मास्क और आरोग्य सेतु के एंट्री नहीं
    CISF के पेश किए गए प्रस्ताव के मुताबिक, लॉकडाउन के बाद मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों की शारीरिक तलाशी होगी और इससे पहले उनको अपने शरीर से किसी भी धातु की वस्तु को बाहर निकालना होगा। इसके अलावा यात्रियों का फेस मास्क पहनना जरूर होगा और आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग पास के रूप में किया जाएगा।
     
    फ्लू के लक्षण वाले यात्रियों को मेट्रो में एंट्री नहीं
    अगर किसी मुसाफिर में फ्लू जैसे लक्षण दिखाई देते हैं तो उसे मेट्रो में सफर करने की परमिशन नहीं दी जाएगी। बता दें कि सीआईएसएफ ने यात्रियों और रेलकर्मियों की सुरक्षा के लिए गुरुवार को बिजनेस कंटिन्यूटी प्लान प्रस्तुत किया था। इसी प्लान में इन सभी योजनाओं का उल्लेख किया गया है।

    ये भी देखे-VIDEO:लॉक डाउन में बिहटा पुलिस की सख्ती बेवजह घूम रहे बाइक सवार से पुलिस ने लगवाई उठक बैठक।।

    12 हजार से ज्यादा CISF जवान होंगे तैनात
    160 से अधिक मेट्रो स्टेशनों पर 12 हजार से अधिक जवानों को तैनात किया जाएगा। जो यात्रियों प्रवेश से लेकर निकास तक की हर गतिविधि पर नजर रखेंगे। वहीं, प्रवेश द्वार पर CISF द्वारा यात्रियों को सेनेटाइजर भी दिया जाएगा। थर्मल स्क्रीनिंग में सामान्य ताप वाले यात्रियों को ही मेट्रो स्टेशन में प्रवेश करने दिया जाएगा। जबकि जिस यात्री का तापमान ज्यादा आएगा उसे गेट से ही वापस कर दिया जाएगा।
     
    एंट्री प्वॉइंट पर बेल्ट तक निकालना होगा
    CISF के महानिदेशक राजेश रंजन ने बताया कि जो नियम बनाए गए हैं उनको यात्रियों, सीआईएसएफ कर्मियों और डीएमआरसी के कर्मचारियों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। एंट्री से पहले सभी यात्रियों को बेल्ट या धातु बने सभी सामान को बाहर निकालकर अपने बैग में रखना जरूरी होगा। इस बैग को स्कैनर मशीन की सहायता से जांचा जाएगा। वहीं जिन यात्रियों के पास बैग नहीं होगा उनके लिए ट्रे उपलब्ध कराया जाएगा।
    बता दें कि अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए दिल्ली मेट्रो में प्रतिदिन 30 लाख के आसपास यात्री सफर करते हैं। ऐसे में इन यात्रियों और मेट्रो में तैनात सुरक्षाकर्मियों के स्वास्थ्य और सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ और मेट्रो प्रशासन की है। अगर लॉकडाउन खुलने के बाद भी नियमों का अच्छे से पालन न हुआ त दिल्ली में कोरोना काफी कोहराम मचा सकता है। ऐसे में लॉकडाउन के बाद अगर मेट्रो चलती है और लोगों को इसमें सफर करना है तो इन नए नियों का पालन करना होगा।


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad