Header Ads

  • BREAKING NEWS

    बेरहम माँ ने कोरोना संक्रमित दिन के नवजात बच्ची को हॉस्पिटल छोड़कर भाग गयी

    प्रतीकात्मक तस्वीर


    We News 24 Hindi »दिल्ली/एनसीआर 

    अमित मेहलावत की   रिपोर्ट 

    दिल्ली /एनसीआर : कहते है माता कभी कुमाता नहीं होती अपने बच्चो के जान बचाने के लिए कुछ कर जाती है . पर एक माँ ऐसी है जो अपने कोरोना संक्रमित तीन दिन की नवजात बच्ची को हॉस्पिटल में छोड़कर भाग गयी .


    ये मामला  दिल्ली के बाड़ा हिंदूराव अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित एक महिला द्वारा अपने तीन दिन की नवजात बच्ची को छोड़कर फरार होने का सनसनखेज मामला सामने आया है। इस घटना से हड़कंप मच गया है। अस्पताल प्रशासन सकते में है। उधर घटना की जानकारी मिलते ही सब्जी मंडी थाना पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। मामले की जांच में जुटी पुलिस महिला की तलाश में अस्पताल सहित असपास के इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

    ये भी पढ़े-दिल्ली दंगों की षडयंत्र बीते साल दिसंबर से ही रची जा रही थी,ताहिर हुसैन ने किया खुलासा


    फरार महिला की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। दरसल संक्रमित महिला से दूसरे लोगों में भी कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। पुलिस के मुताबिक इस  गर्भवती महिला को गत 9 अगस्त को लेबरपेन को होने पर कस्तूरबा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महिला ने बेटी को जन्म दिया था। इस दौरान महिला की कोरोना जांच भी कराई गई थी, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई गई। इसके बाद मां-बेटी दोनो ही को 11 अगस्त को बाड़ा हिंदूराव अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। दरअसल कस्तूरबा गांधी अस्पताल में कोरोना का इलाज नहीं होता है।






    इस कारण महिला को नवजात बच्ची के साथ बाड़ा हिंदृ राव अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां नवजात को नर्सरी में रखा गया था, जबकि महिला को कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया था। इस बीच गत 12 अगस्त की रात करीब पौने दो बजे महिला बच्ची को अस्पताल में ही छोड़कर अचानक फरार हो गई। जैसे ही महिला के फरार होने की खबर पता चला, अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई और आनन-फानन में घटना की सूचना पुलिस को दी गई।

    ये भी पढ़े-भाकपा माले के सदस्यों के द्वारा नुक्कड़ सभा का आयोजन किया


    पुलिस पिछले दो दिनों से लगातार फरार महिला की तलाश कर रही है, लेकिन उसका कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।  फरार महिला ने अस्पताल में भर्ती होते वक्त अपना पता बिहार स्थित औरंगाबाद का दर्ज कराया था। इतना ही नहीं उसने अपने पति का नाम व मोबाइल फोन नंबर भी अस्पताल में लिखाया था, लेकिन वह फोन भी फिलहाल बंद आ रहा है। सब्जी मंडी थाने की कई टीमे महिला की तलाश में जुटी हैं, लेकिन उसका अबतक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। उधर मासूम नवजात अभी भी नर्सरी में है। उसके स्वास्थ्य पर भी डॉक्टर नजर रखे हुए हैं।

    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad