Header Ads

  • BREAKING NEWS

    बंगाल में बीजेपी के 'नवान्न चलो' आन्दोलन में जमकर बवाल , प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज, कोलकाता बना रणक्षेत्र

     




    We News 24 Hindi » वेस्ट बंगाल/राज्य/कोलकाता

    सोमसोभरा रॉय की रिपोर्ट 


    कोलकाता:बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ हालिया हिंसा, बिगड़ती कानून व्यवस्था समेत अन्य मुद्दे पर भाजपा की ओर से गुरुवार को बुलाए गए नवान्न चलो आंदोलन को लेकर कोलकाता व हावड़ा सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में सुबह से ही जमकर बवाल हो रहा है। राज्य सरकार के खिलाफ हजारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता राज्य के अलग-अलग हिस्सों में रैलियां कर रहे हैं और राज्य सचिवालय नवान्न की तरफ बढ़ रहे हैं। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने विद्यासागर सेतु और हावड़ा ब्रिज सहित अन्य सड़कों को पूरी तरह से बंद कर दिया है और जगह-जगह बैरिकेडिंग भी लगा दी गई है।


    ये भी पढ़े-बिहार विधानसभा चुनाव में PM मोदी बने चुनवी मुद्दा ,NDA कार्यकर्ताओं में उलझन



    इस बीच राजधानी कोलकाता व हावड़ा में भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस में जमकर भिड़ंत हो गई। पुलिस ने प्रदर्शनकारी कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठियां बरसाईं। उनके ऊपर वॉटर कैनन छोड़े गए, जिसमें दर्जनों कार्यकर्ता घायल हुए हैं।




    प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष राजू बनर्जी भी इसमें बुरी तरह घायल हो गए हैं। भाजपा ने दावा किया है कि उन पर पुलिस ने केमिकल अटैक किया। जिसके बाद बनर्जी को खून की उल्टी हुई। उन्हें अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रदर्शन को देखते हुए भाजपा राज्य मुख्यालय के बाहर भी भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया था।




    बीच सड़क पर धरने पर बैठे कैलाश विजयवर्गीय 

    भाजपा के इस नवान्ना चलो आंदोलन में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय समेत तमाम नेता और कार्यकर्ता सड़क पर हैं। भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने कहा कि पुलिस हमारे लोगों पर लाठीचार्ज कर रही है। कोलकाता के खिदिरपुर की तरफ एक विशेष समुदाय की तरफ से कार्यकर्ताओं पर पथराव किया जा रहा है। क्या पुलिस उसे नहीं देख सकती?


    वहीं पुलिसिया कार्रवाई के खिलाफ भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय बीच सड़क पर ही धरने पर बैठ गए हैं। विजयवर्गीय ने कहा कि बंगाल सरकार के भीतर डर है। इस कारण वह विरोध के बुनियादी लोकतांत्रिक अधिकारों को भी नकारने में लगी है। राज्य सचिवालय नवान्न को भी बंद कर दिया गया है। गौरतलब है कि नवान्न चलो आंदोलन को देखते हुए राज्य सरकार ने सुबह में अचानक राज्य सचिवालय नवान्न को सैनिटाइज करने के लिए 2 दिन तक बंद करने की घोषणा कर दी। इस बात से भाजपा कार्यकर्ता और उग्र हो गए। 



    कोलकाता से तीन व हावड़ा से निकाली जा रही हैं एक रैलियां 

    नवान्न चलो आंदोलन को लेकर भाजपा की तरफ से चार प्रमुख रैलियां निकाली जा रही हैं। चार रैलियों में से तीन रैलियां अकेले कोलकाता में निकाली जा रही हैं। एक रैली हावड़ा के शिवपुर से सचिवालय तक निकल रही है। हालांकि पुलिस ने इसको रोक दिया है। इसी को लेकर जमकर बवाल हो रहा है।  


    चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा
    किसी भी घटना से बचने के लिए राज्य सरकार ने जगह-जगह भारी पुलिस फोर्स तैनात किया है। चप्पे-चप्पे पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है।वॉटर कैनन की गाड़ियां लगाई गईं हैं। बंगाल सरकार ने पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा है।


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad