Haider Aid


 

  • Breaking News

    कश्मीरी आतंकवादियों ने बिहार के युवाओं का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया, चौंकाने वाले खुलासे हुए





    We News 24 Hindi » अरिरया /बिहार 
    ललित भगत की रिपोर्ट।


    अररिया: जम्मू कश्मीर के कुछ बदनाम आतंकी संगठन सीमांचल क्षेत्र के युवाओं को कथित तौर पर टेरर फंडिंग के लिए काम पर रख रहे हैं। शुरूआती जांच में पता चला है कि युवाओं को नेपाल से जम्मू और कश्मीर में नकली भारतीय मुद्रा नोटों के परिवहन के लिए 'कमीशन' के रूप में अच्छे पैसे दिए गए थे। एक आरोपी मोहम्मद परवेज से पूछताछ के दौरान चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं।


    परवेज को अररिया जिले में भारत-नेपाल सीमा के साथ सटी सीमा चौकी क्षेत्र से एसएसबी ने दबोचा था। रुपये के मूल्यवर्ग में नकली नोट। 200 और रु। उसके कब्जे से 500.65 लाख रुपये जब्त किए गए।

    ये भी पढ़े-क्यों म्यांमार (बर्मा)में सेना को घोषित किया गया आतंकवादी संगठन

    मोबाइल में छिपे हैं राज

    पूछताछ के दौरान परवेज ने खुलासा किया कि वो जम्मू-कश्मीर और महाराष्ट्र के कुछ लोगों के बैंक खातों में निजी बैंकों के ग्राहक सेवा बिंदुओं के प्रभारी की मदद से पैसा जमा करता था। पुलिस ने परवेज का जो मोबाइल फोन जब्त किया था उसमें एकाउंट नंबर भी मिले हैं।



    एसएसबी की 52 वीं बटालियन के सेकेंड कमांडर ब्रजेश कुमार सिंह ने कहा कि परवेज को एक मोटरसाइकिल पर नेपाल से भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने की कोशिश करते हुए पकड़ा गया था। हालांकि उसने पुलिस को देखकर भागने की कोशिश की लेकिन पीछा करके परवेज को गिरफ्तार कर लिया गया।


    अररिया जिले का रहने वाला है आरोपी

    अररिया जिले के सिकटी थाना क्षेत्र के अंतर्गत वार्ड नंबर 13 के निवासी परवेज को शुरुआती पूछताछ के बाद जिला पुलिस को सौंप दिया गया। सिकटी पुलिस ने उसके खिलाफ नकली नोटों को लेकर मामला दर्ज किया है।

    ये भी पढ़े-सर्द हवाओं के चलते दिल्ली NCR में महसूस हुई ठंड, उत्तराखंड, हिमाचल सहित मध्य प्रदेश में बारिश का अलर्ट

    वहीं सिकटी पुलिस स्टेशन के थानेदार ओमप्रकाश के मुताबिक 'परवेज नेपाल में रंगीली के एक जूलर से नकली भारतीय करेंसी नोटों की खेप हासिल करता था। उसका बड़ा भाई मोहम्मद तबरेज भी लंबे समय से इस काले कारोबार में शामिल था।' थानेदार के मुताबिक आईबी के अधिकारियों और अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने भी परवेज से पूछताछ की है। थानेदार ओम प्रकाश ने कहा कि 'बैंक खातों से पैसे के लेन-देन का ब्योरा संबंधित बैंकों से प्राप्त किया जा रहा है।'



    भारत-नेपाल सीमा पर तेज हुई चौकसी

    डीआईजी एसएसबी पूर्णिया सेक्टर संजय कुमार सारंगी ने मीडिया को बताया कि अररिया जिले के निवासी से नकली नोटों की बरामदगी के बाद नेपाल सीमा पर चौकसी तेज कर दी गई है। जोगबनी में तैनात एसएसबी की 56 वीं बटालियन के कमांड के सेकेंड कमांडेंट मुकेश कुमार सिंह मुंडा ने कहा कि सुरक्षा के दृष्टिकोण से संवेदनशील माने जाने वाले क्षेत्रों में चौबीसों घंटे गश्त की जा रही है।

    ये भी पढ़े-खाद्य तेल पेट्रोल- डीजल और रसोई गैस के दामों में उछाल के बाद सीएनजी और पीएनजी के दाम में वृद्धि

    सारण से पकड़ा गया था आतंकियों को हथियार सप्लाई करने वाला

    यह एक अलग मामला नहीं है। इससे पहले सारण जिले के निवासी जावेद को पिछले महीने जम्मू-कश्मीर के कुछ हथियार डीलरों के साथ उनके कनेक्शन के लिए और आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद को हथियार की सप्लाई के लिए गिरफ्तार किया गया था। इसका खुलासा खुद जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने किया था।


    इसके अलावा हवाला रैकेट के आरोप में कटिहार जिले से 6 अफगानी नागरिकों को भी गिरफ्तार किया गया था। सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने हाल ही में राज्य सरकार को एक पत्र भेजा है जिसमें नेपाल सीमा के करीब के जिलों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए कहा गया है। 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B


    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad