Haider Aid

  • Breaking News

    उद्धव सरकार के महाराष्ट्र में लॉकडाउन के फैसले के विरोध में व्यापारी उतरे सडक पर



    We News 24 Hindi »मुम्बई, महाराष्ट्र
    रधु जाधव की रिपोर्ट 


    मुंबई: देश में कोरोना के मामले लगातार नए रिकॉर्ड बना रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 1,15,736 नए मामले सामने आए हैं, वहीं 630 लोगों की मौत भी हुई है. देश में महामारी की शुरुआत से लेकर अभी तक के सबसे ज्यादा नए मामले मंगलवार को ही आए हैं. भारत में कोरोना की दूसरी लहर ने सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए हैं. देश में अभी कोरोना के 8,43,473 एक्टिव केस हैं, ये संख्या चिंता का विषय बने हुए हैं. महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं. देशभर के कुल मामलों में करीब आधे मामले महाराष्ट्र में ही दर्ज किए गए हैं.

    ये भी पढ़े-दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश,कार में अकेले हों तो भी मास्क पहनना जरूरी

    कोरोना वायरस की वजह से महाराष्ट्र की मौजूदा स्थिति काफी खराब हो चुकी है. मंगलवार को महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के 55,469 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 297 लोगों की मौत हुई है. बीते 24 घंटों में यहां 34,256 लोग महामारी से रिकवर भी हुई हैं. महाराष्ट्र में फिलहाल 4,73,693 एक्टिव केस हैं जो लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं. महाराष्ट्र के मौजूदा हालातों को देखते हुए ही राज्य की उद्धव ठाकरे सरकार अलर्ट होने के साथ-साथ सख्त भी हो गई है. बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना को देखते हुए नई गाइडलाइंस जारी की गई हैं. नई गाइडलाइंस के तहत पूरे राज्य में धारा 144 लागू रहेगी. इसके साथ ही रात 8 से सुबह 7 तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. राज्य में किसी भी एक स्थान पर पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पूर्ण पाबंदी रहेगी. इसके अलावा शनिवार और रविवार को लॉकडाउन का ऐलान किया गया है.

    ये भी पढ़े-सभी लोग रात 10 बजे के बाद दिल्ली मेट्रो में नहीं कर पाएंगे सफर, जाने क्या हैआदेश

    जहां एक ओर महाराष्ट्र सरकार कोरोना वायरस के खतरे को कम करने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है, वहीं दूसरी ओर राज्य के व्यापारी सरकार के इन फैसलों से काफी नाराज हैं. महाराष्ट्र के व्यापारी उद्धव ठाकरे द्वारा लिए गए लॉकडाउन के फैसले का खुला विरोध कर रहे हैं. व्यापारियों का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से उनका बचा-खुचा बिजनेस भी पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगा. व्यापारी संघ के अध्यक्ष विरेन शाह का कहना है कि यदि उनकी दुकानें बंद रहेंगी तो प्रॉपर्टी टैक्स, दुकान का किराया और दुकानों पर काम करने वाले कर्मचारियों के वेतन का पैसा निकालना भी भारी पड़ जाएगा.


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

     

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad