Header Ads

  • BREAKING NEWS

    अलीगढ़ आईजी का कहना,हाथरस गैंग रेप पीड़िता ने तीन बार बदले बयान, मेडिकल रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि नहीं



    We News 24 Hindi »अलीगढ /उत्तर प्रदेश

    अविनाश गौतम  की रिपोर्ट 

    हाथरस: गैंगरेप पीड़िता ने उपचार के दौरान विवेचक के सामने कई बार अपने बयान बदले थे। इसका विवेचक की रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है। पीड़िता के अलग-अलग तिथियों में लिए गए बयान में अलग-अलग बातें सामने आई हैं। इतना ही नहीं, मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हो पाई है।


    ये भी पढ़े-दिल्ली पुलिस का कहना ,हाथरस के निर्भया गैंगरेप पीड़िता के परिजन नहीं चाहते थे धरना, संगठनों ने बैठाने की कोशिश


    उपचार के दौरान युवती के तीन बार बयान हुए। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, पहली बार में युवती ने रेप से जुड़ा कोई बयान नहीं दिया था। उसके बाद 19 सितंबर को बयान हुए, जिसमें कहा कि मेरे साथ छेड़छाड़ हुई है। बयान के आधार पर पुलिस ने धारा बदलकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी थी। उसके बाद 22 सितंबर को बयान दर्ज हुए। जिसमें पीड़िता ने कहा था कि उसके साथ रेप हुआ है। नए बयान के आधार पर पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर आरोपियों को गिरफ्तार किया था। मेडिकल रिपोर्ट पर गौर करें तो उसमें युवती के साथ रेप की पुष्टि नहीं हुई है।


    ये भी पढ़े-बड़ी खबर :28 साल बाद आज आएगा बाबरी मस्जिद का फैसला, जोशी और आडवाणी समेत कई पर हैं विवादित ढांचा गिराने के आरोप


    घटना के अनुसार, 14 सितंबर की सुबह गांव चंदपा की युवती अपनी मां के साथ खेत पर गई थी। वह खेत में घास काट रही थी। इसी बीच संदीप नाम का एक युवक वहां आ धमका और छेड़छाड़ करने लगा। युवती ने विरोध किया तो हमला बोल दिया। युवती के चिल्लाने पर युवती की मां आरोपी की तरफ दौड़ पड़ी। इतने में आरोपी मौका पाकर फरार हो गया था। घायल युवती को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया।


    ये भी पढ़े-लता मंगेश्कर के जन्मदिवस पर संगीतमय संध्या “मेरी आवाज़ ही पहचान है” का हुआ आयोजन


    युवती के भाई ने करीब 10:30 बजे थाने पहुंचकर बताया कि उसकी बहन का गला दबाकर मारने का प्रयास किया गया। मामले में एफआईआर दर्ज हुई। युवती की गंभीर हालत को देखते हुए उसको एएमयू के जेएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। यहां चिकित्सकों ने देखा कि युवती की कमर की एक हड्डी टूटी है। इतना ही नहीं, दोनों पैर भी सही से काम नहीं कर रहे थे।


    ये भी पढ़े-मुजफ्फरपुर:वर्ल्ड हार्ट डे के अवसर पर इनरव्हील क्लब ऑफ़ पुष्पांजलि ने बृद्धा आश्रम में किया कार्यक्रम


    हाथरस निवासी युवती की मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हुई है। मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान युवती के तीन बार बयान हुए। युवती ने पहले मारपीट, फिर छेड़छाड़ व उसके बार रेप होने की बात कही थी। युवती के बयान व अन्य बिंदुओं के आधार पर प्रकरण की जांच चल रही है। 

     पीयूष मोर्डिया, आईजी, अलीगढ़ 


    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें


    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad