Haider Aid


 

  • Breaking News

    9 महीनों बाद वकीलों ने पटना हाईकोर्ट रखा कदम ,वकील और पुलिस के बीच हो गयी तू-तू मैं-मैं

     



    We News 24 Hindi »पटना/बिहार 
    अमिताभ मिश्रा की रिपोर्ट 



    पटना : नये  साल में पटना हाईकोर्ट  4 जनवरी 2021 सोमवार से फिजिकल कोर्ट की 15 दिनों के ट्रायल के तौर पर  शुरुआत हुयी हलाकि फिजिकल कोर्ट के साथ-साथ वर्चुअल (ऑनलाइन) कोर्ट भी चला दोनों कोर्ट में  सुनवाई हो रही है ।  फिजिकल कोर्ट के पहले दिन हाईकोर्ट परिसर में चहल-पहल दिखी। कोर्ट रूम में वकीलों ने बहस भी की। न्यायमूर्ति ने दोनों पक्षों की दलीलें भी सुनीं गयी । 





    नौ महीने से ज्यादा समय के बाद वकीलों ने हाईकोर्ट में कदम रखा


    नौ महीने से ज्यादा समय के बाद वकीलों ने हाईकोर्ट में कदम रखा। कोर्ट रूम में न्यायमूर्ति और वकीलों के बीच शीशे की दो लेयर कोरोना सुरक्षा दीवार बनाई गई है। सोमवार को दो शिफ्टों में सुनवाई हुई। प्रत्येक कोर्ट में 25-25 मामलों को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया गया था। प्रत्येक कोर्ट में करीब आठ वकीलों को बैठने की व्यवस्था थी । बाकी के वकील के लिए कोर्ट रूम के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए बैठने के लिए कुर्सियां लगाई गई थीं। इसके अलावा बारह वेटिंग रूम भी बनाए गए हैं। साथ ही हाईकोर्ट परिसर में भी वकीलों के बैठने की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक कोर्ट रूम के बाहर पानी की व्यवस्था दिखी। इसके अलावा सेनेटाइजेशन की भी व्यवस्था रही। 

    ये भी पढ़े-आज से बिहार में 50 प्रतिशत हाजिरी के साथ खुलेंगे स्कूल, ऑड-ईवन फार्मूले के आधार पर आएंगे बच्चे

    ई-पास देखने के बाद ही हाईकोर्ट परिसर में अधिवक्ताओं को प्रवेश दिया गया। गेट नंबर दो से अधिवक्ताओं और गेट नंबर तीन से हाईकोर्ट कर्मी, वकील व मुंशी को जाने दिया गया। इनके अलावा किसी को प्रवेश नहीं मिला। 


    थर्मल स्क्रीनिंग नहीं हुई


    फिजिकल कोर्ट के पहले दिन कोरोना संक्रमण को लेकर जारी एसओपी का पूरी तरह पालन नहीं हुआ। हाईकोर्ट में प्रवेश करने के लिए ई-पास जरूरी किया गया था, लेकिन गेट पर तैनात पुलिस कर्मी सिर्फ ई-पास देख रहे थे। ई-पास किसका और कब का है, इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा था। साथ ही वकीलों की थर्मल स्क्रीनिंग नहीं की जा रही थी। गेट पर सेनेटाइजर लिए खड़े कर्मी हर किसी को सेनेटाइजर नहीं दे रहे थे। हालांकि सभी मास्क लगाये हुए थे। कोर्ट परिसर के भीतर वकील सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते नहीं दिखे। 


    ये भी पढ़े-कृषि कानून : सरकार को गांधी के सबल ग्राम के सपनों को मजबूती से लागू करने की सदबुद्धि दे



    वकील और पुलिस के बीच तू-तू मैं-मैं


    कोर्ट परिसर में गाड़ी के प्रवेश और आने जाने को लेकर  गेट नंबर 3 और 4  पर वकील और पुलिस के बीच तू-तू मैं-मैं भी हुई लेकिन उन्हें तुरंत शांत करा दिया गया। वहीं, काफी संख्या में वकीलों नया सिस्टम देखने हाईकोर्ट आए।  वहीं, कई मुवक्किल भी गेट संख्या तीन के पास खड़े दिखे।


    एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष वरीय अधिवक्ता योगेश चन्द्र वर्मा ने बताया कि फिजिकल कोर्ट को सफल बनाने के लिए हर संभव प्रयास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रयोग के तौर पर शुरू किए गए फिजिकल कोर्ट में केसों की सुनवाई में वकील पूरा सहयोग कर रहे हैं। थोड़ी-बहुत दिक्कतों के साथ फिजिकल कोर्ट की शुरुआत हुई। 



    Header%2BAidWhats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें




    %25E0%25A4%25B5%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%2587%25E0%25A4%259F%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2597%25E0%25A5%258B

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad