Header Ads

  • BREAKING NEWS

    प्रदूषण मानदंड़ों का उल्लंघन करने वालों को दंडित किया जाएगा

    We News 24 Hindi »नई दिल्ली
    काजल कुमारी   की रिपोर्ट

    नई दिल्ली  : पर्यावरण सचिव सी के मिश्रा ने कहा कि सरकार प्रदूषण मानदंडों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई में तेज की जाएगी। उत्तरी राज्यों में गंभीर वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिवों के साथ एक उच्च-स्तरीय बैठक के बाद मिश्रा ने एक प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी।


    मिश्रा ने संवाददाताओं से कहा, “हम निर्णायक रूप से कार्य करेंगे। प्रदूषण मानदंड़ों का उल्लंघन करने वालों को दंडित किया जाएगा। अगले पंद्रह दिनों में हम उल्लंघनकर्ताओं पर शिकंजा कसेंगे। अवैध निर्माण और उत्सर्जन को कम करने के लिए कार्रवाई की जाएगी। नई तकनीक पर भी काम किया जा रहा है।”

    ये भी पढ़े :अरविन्द केजरीवाल दिल्ली की जनता को फ्री पानी के नाम पर ज़हर पिला रहे हैं

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि अब ऑड-ईवन योजना की जरूरत नहीं है।उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में हवा की गुणवत्ता में सुधार आया है। 4 नवंबर को ऑड-ईवन नियम लागू किया गया क्योंकि दिल्ली की वायु गुणवत्ता “गंभीर” स्तर पर पहुंच गई थी। अब दिल्ली के AQI में सुधार दर्ज किया गया है।


    सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा, “ऑड-ईवन स्कीम “एक स्थायी समाधान नहीं हो सकता है, खासकर जब सीपीसीबी का कहना है कि कारों का योगदान प्रदूषण में 3 फीसदी है।”
    सुप्रीम कोर्ट में दिल्ली सरकार ने कहा कि प्रदूषण का मुख्य जिम्मेदार पराली है। कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा कि 60 फीसदी प्रदूषण दिल्ली का अपना है। 

    आप बताइए कि ऑड-ईवन से फायदा हुआ या नहीं, दिल्ली सरकार ने कहा कि ऑड-ईवन आज खत्म हो जाएगा। कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा जब पिछले साल ऑड-ईवन नहीं लागू हुआ था तो प्रदूषण का स्तर क्या था? सुप्रीम कोर्ट ने डेटा को देखकर दिल्ली सरकार से कहा कि पिछले साल ऑड-ईवन लागू नहीं था, इस साल लागू है, दोनों ही एक जैसे है।


    कोमल कुमारी द्वारा किया गया पोस्ट 

    WE NEWS 24 AID

    Post Bottom Ad