Haider Aid

  • Breaking News

    चीन की कमर तोड़ने के लिए अमेरिका को मिला इन देशों का साथ ,अब क्या करेगा चीन ?

    We
     News 24 Hindi »नई दिल्ली 
    गौतम कुमार की रिपोर्ट

    नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बाद सबके निशाने पर आए चीन की घेराबंदी की तैयारी पूरी हो चुकी है. जिस वायरस ने पूरी दुनिया के हेल्थ और इकॉनॉमिक सिस्टम को हिला कर रख दिया है. अब उसी वायरस से पूरी दुनिया में ऐसे कूटनीतिक बदलाव होने जा रहे हैं जिसके बारे में अब से पहले किसी ने सोचा भी नहीं था.

    ये भी पढ़ें-देश में कोरोना वायरस केस में उछाल,संक्रमितों का आंकड़ा 74,000 के पार,2415 लोगों की मौत

    चीन के खिलाफ घेराबंदी की पूरी प्लानिंग अमेरिका ने की है. चीन को हर मोर्चे पर मात देने की तैयारी है और इसमें अमेरिका समेत 7 देश एक साथ आकर चीन को कड़ा संदेश दे चुके हैं.

    ये भी पढ़े-PM के 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज से प्रवासी मजदुर को फायदा नहीं ,उनके नसीब में तो भूखा रहना लिखा है


    अमेरिका के विदेश मंत्री माइकल पोम्पिओ ने एक साथ 7 देशों के साथ वर्चुअल बैठक कर चीन को कड़ा संदेश दिया. इस बैठक में भारत भी शामिल था. भारत के अलावा जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, इजरायल और ब्राजील के विदेश मंत्रियों के साथ बैठक की गई. इस बैठक में कोरोना को लेकर ज्यादा पारदर्शिता बरतने का मुद्दा उठाया गया..


    यानि अमेरिका अपने साथ अब भारत समेत दुनिया की महाशक्तियों को दिखाकर चीन को कड़ा संदेश देना चाह रहा है. पोम्पिओ के आग्रह पर बुलाई गई इस बैठक को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तरफ से चीन पर लगातार निशाना साधने की रणनीति के अगले चरण के तौर पर देखा जा सकता है.

    ये भी पढ़े-करोडो अरबो का लोन नहीं चुकाने वाले का कुछ नहीं होता ,गरीब किसान की संपति हो जाती है जब्त ,सुप्रीमकोर्ट

    इस बैठक में अमेरिकी विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान के मुताबिक इस बैठक में 'कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अंतरराष्ट्रीय सहयोग, पारदर्शिता और जिम्मेदारी तय करने के मुद्दे पर चर्चा हुई है. इनके बीच भविष्य में होने वाले स्वास्थ्य संबंधी संकट और कानून सम्मत अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था कायम करने के विषय पर भी चर्चा हुई है.



    अमेरिकी विदेश मंत्रालय का ये बयान पूरी तरह से चीन को निशाना बनाने वाला है. अमेरिका लगातार चीन पर ये आरोप लगा रहा है कि उसने कोरोना को लेकर ज़रूरी जानकारियां छिपाई और पारदर्शिता नहीं बरती.


    अमेरिका का चीन के खिलाफ उठाया ये कदम असरदार भी साबित होता दिख रहा है. बैठक में अमेरिका के अलावा जापान और ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री ने पारदर्शी व्यवहार बरतने की बात कही. ऐसा पहली बार हुआ है कि अमेरिका ने कुछ प्रमुख देशों को एक साथ कोविड-19 पर विचार विमर्श करने को इकट्ठा किया.


    Header%2BAid
    Whats App पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने Mobile में save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi  और https://twitter.com/Waors2 पर पर क्लिक करें और पेज को लाइक करें।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad