Header Ads

  • Breaking News

    एईएस,चमकी बुखार जागरूकता अभियान, एलईडी वाहन नुक्कड़ नाटक टीम को जिलाधिकारी ने झंडी दिखाकर रवाना किया


    We%2BNews%2B24%2BBanner%2B%2B728x90


     We News 24» रिपोर्टिंग सूत्र  / उमाशंकर गिरी  

    मुजफ्फरपुर : एईएस/चमकी बुखार पर जागरूकता अभियान को और गति देने की दिशा में आज पांच एलईडी वाहनों को और नुक्कड़ नाटक की एक टीम को जिलाधिकारी ने दिखाई हरी झंडी।एलईडी वाहनों के द्वारा जिले के विभिन्न प्रखंडों के 324 टोलो में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा जन-संपर्क विभाग मुजफ्फरपुर के तत्वाधान में एलईडी वाहनों एवं नुक्कड़ नाटक के द्वारा जागरूकता अभियान को दी जा रही है गति एईएस/ चमकी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण के मद्देनजर सघन जागरूकता कार्यक्रम विभिन्न माध्यमों से लगातार चलाया जा रहे है। 


    ये भी पढ़े-दिल्ली सिविल लाइंस में बुजुर्ग की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई, कड़ी मशक्कत के बाद पकड़े गए हत्यारे


    इस क्रम में आज जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार द्वारा एलईडी वाहनों को हरी झंडी दिखाकर प्रखंडों के लिए रवाना किया गया। उक्त वाहनों द्वारा विभिन्न प्रखंडों के कुल 324 टोलों  में ऑडियो वीडियो विजुअल के माध्यम से सघन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसके साथ ही कला कुंज बिहार हाजीपुर की टीम को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।नुक्कड़ नाटक की टीम के द्वारा मीनापुर प्रखंड में कुल 20 टोलो में जागरूकता कार्यक्रम किया जाएगा। उक्त कार्य जिला जन-संपर्क कार्यालय के तत्वाधान में किया जा रहा है।

    ये भी पढ़े- दिल्ली प्रशासन का अतिक्रमण पर हमला , आज से 13 मई तक संगम विहार से शाहीन बाग तक रोजाना चलेगा बुलडोजर

     मौके पर उपस्थित जिला अधिकारी प्रणव कुमार ने कहा कि विगत फरवरी माह से ही चमकी पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर लगातार जागरूकता कार्यक्रम किए जा रहे हैं। 270 पंचायतों को गोद लिया गया है जहां नियमित तौर पर वरीय अधिकारी विजिट करते हैं और रात्रि चौपाल का आयोजन करते हुए लोगों को जागरूक किया जाता है। इसके अतिरिक्त आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका ,जीविका और आशा कार्यकर्ता के माध्यम से दैनिक रूप से डोर टू डोर विजिट करते हुए अभिभावकों को जागरूक किया जा रहा है। प्रत्येक वार्ड में 10 वर्ष के कम बच्चों पर विशेष नजर रखी जा रही है। उन्होंने कहा कि समय-समय पर वरीय पदाधिकारियों द्वारा जागरूकता कार्यक्रम का फीडबैक भी लिया गया जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं।उन्होंने कहा कि मजबूत रेफरल सिस्टम और माकूल चिकित्सीय व्यवस्था की उपलब्धता के कारण भर्ती हो रहे बच्चों का प्रॉपर इलाज हो रहा है और इलाज उपरांत बच्चे स्वस्थ होकर अपने घर भी जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जागरूकता अभियान को गति देने की दिशा में आज एलईडी वाहनों के माध्यम से पंचायतों/गांव /टोलो में रवाना किया गया है जिनके द्वारा लगातार 25 दिनों तक लोगों को जागरूक किया जाएगा और चमकी से बचाव के बारे में जानकारी भी दी जाएगी।

    ये भी पढ़े--माता जानकी की जन्मस्थली सीतामढ़ी पुनोरा धाम में राम कथा का आयोजन

     मौके पर उप विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी, डीआरडीए निदेशक चंदन चौहान ,डीपीआरओ कमल सिंह, जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉक्टर सतीश कुमार, डी पी एम बी पी वर्मा ,डीपीओ आईसीडीएस चांदनी सिंह सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। 

    इस आर्टिकल को शेयर करे .


    Header%2BAidWhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9599389900 को अपने मोबाईल में सेव  करके इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/wenews24hindi और https://twitter.com/Waors2 पर  क्लिक करें और पेज को लाइक करें .


    कोई टिप्पणी नहीं

    कोमेंट करनेके लिए धन्यवाद

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad